Posts

How to improve your knowledge through in Hindi?

 Hello and Welcome My Dear Readers आज हिंदी विश्व में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओँ में से एक है। यह पुरे विश्व में बोली जाने वाली दूसरी भाषा है।  चलिए अब आपसे बात करते हैं की आप अपने ज्ञान को हिंदी के माध्यम से किस प्रकार बढ़ा सकते हैं। हमे यह तो पता ही है की हिंदी की जो लिपि है वह किसी भी अन्य भाषा की अपेक्षा कितना स्पष्ट और सुब्यवस्थीत है क्योकि इसमें हर वर्ड का अपना एक अलग ही मतलब है।  हिंदी लिपि देवनागरी लिपि से लिया गया है जो की संस्कृत भाषा की लिपि है। संस्कृत में हालांकि हिंदी साहित्य को तलाशा जाता है लेकिन इसकी जड़ें अपभ्रंश भाषा से जुड़ी हुई हैं।  हिंदी में अपने ज्ञान को बढ़ाने या सुधारने के लिए मैंने यहां कुछ टीप्स आपको दिए हैं उन्हें फॉलो करके आप हिंदी में अपने ज्ञान को सुधार सकते हैं - Some Points to improve your knowledge through in Hindi? हिंदी में अपने ज्ञान को सुधारने के लिए आपको इसके लिपि के बारे में ज्ञान होना बहुत ही जरूरी है जब तक आपको इस भाषा की लिपि का ज्ञान नही होगा तब तक आप हिंदी में अपने ज्ञान को बढ़ा ही नही सकते हैं।  समझने के लिए जितना ज्यादा इसकी लिपि का ज्ञ

Blogger kya hai

Image
Hello and welcome friend my blog pcgyan1 हमारे एक दोस्त ORSI MANISH ने कमेंट करके पूछा था, की I want to know about blogger तो उसी के जवाब देने लिए मैं ये पोस्ट लिख रहा हूँ उन्होंने मुझे gmail पर जवाब भेजने को कहा था । तो मै यहां पर मेरा जवाब लिख रहा हूँ । सबसे पहले शुरू करते हैं, What is blogger ? से- तो देखो यार ये blogging करने वालों का एक Hosting Tool है जहां पर Blogger के सभी Data save होते हैं। अब blogger उन लोगों को भी कहा जाता है जो कि इस वेबसाइट पर या किसी अन्य hosting site पर रहकर blogging करते हैं उन्हें भी ब्लॉगर कहते हैं। या sort word में कहें तो ये एक platform है जहां पर लोग अपना ID Password Create करते हैं। और पोस्ट लिखते हैं । ब्लॉगर में क्या फ्री है और क्या पेड? blogger में किसी भी प्रकार के पैसे आपको होस्टिंग के लिए या नाम के लिए नही देने होते हैं, लेकिन यदि आप चाहते हैं की आपका ब्लॉग अच्छा दिखे और  उसका नाम अच्छा से हो तो आपको डोमेन नेम के लिए पैसे देने पड़ सकते हैं क्योकि आपको जो ब्लॉगर में डोमेन नेम दिया  जाता है वह सब डोमेन के साथ होता है। अब सवाल मन म

PGDCA OFFICE AUTOMATION AND TALLY PRACTICAL BASED ON 2019-20

PT. RAVI SHANKAR SHUKLA UNIVERSITY, RAIPUR (C.G.) POST GRADUATE DIPLOMA IN COMPUTER APPLICATION 2019-20 [DURATION - ONE YEAR - FULL TIME] The duration of the course shall be one year consisting of two semesters. There shall be three theories and two practical courses in the each semester. FIRST SEMESTER PGDCA-101 : Introduction to software organisation PGDCA-102 : Programming in "C" PGDCA-103 : Office automation and Tally PGDCA-104 : Practical based on PGDCA-103. PGDCA-105 : Practical based on PGDCA-102. PGDCA-104 : PRACTICAL BASED ON PGDCA-103 1. Scheme of Examination :- Practical examination will be 3 hours duration. The distribution of practical marks is as follows: Question 1 (Word)   -   10 Question 2 (Excel / Power point)   -   10 Question 3 (FoxPro)   -   15 Question 4 (Access)   -   10 Question 5 (Tally)   -   15 Viva-Voice   -   20 [Practical Copy + Internal Record]   -   20 Total   -   100 2 In every program there should be comment for each coded

Visual Basic Kya Hai By PCGYAN1

Image
Wellcome to PCGYAN1.BLOGSPOT.COM hello दोस्तों आपका स्वागत है मेरे ब्लॉग पर जिस पर हम बातें करते हैं PC के बारे में। साथ ही PGDCA तथा DCA से रिलेटेड टॉपिक्स के बारे में जिसमें आज आपको बताने वाला हूँ विजुअल बेसिक क्या है? Visual Basic Kya hai? Visual studio logo विजुअल का मतलब क्या है? विजुअल किसी वस्तु के दिखने को कहा जाता है जिसे विजुअलाइजेशन भी कहा जाता है। इस प्रकार यहां इसका उपयोग कम्प्यूटर में उसकी दृश्यता को बताता है और उसे डिजाइन करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है।  बेसिक का मतलब क्या ? बेसिक को आम बोलचाल की भाषा में सामान्य कहा जाता है तो यहां पर हम PC की बात कर रहे हैं तो यहां इसका मतलब होगा की सामान्य तरीके से किसी भी कम्प्यूटर की दृश्यता या दिखावट को परिभाषित करना।  विजुअल बेसिक क्या है? विसुअल बेसिक Microsoft Company के द्वारा चलाया गया प्रोग्राम है जो की किसी भी उपयोगकर्ता के द्वारा उपयोग किया जा सकता है। जिसे सीखना भी बेहद आसान है। विजुअल बेसिक को हमारे पाठ्यक्रम जैसे PGDCA और DCA में शामिल किया गया है। मेरे को लगता है की इसे शामिल करने का मुख्य कारण

Computer GK in hindi by pcgyan1

Image
computer gk हमारे दैनिक जीवन में बहुत अधिक महत्व रखता है और आजकल कंप्यूटर का ज्ञान होना बहुत ही आवश्यक हो गया तथा किसी भी प्रतियोगिता परीक्षा में कम्प्यूटर से सम्बन्धित विषय अवश्य पूछे जाते है, इसी को ध्यान में रखकर ये पोस्ट लिखा जा रहा है। Computer gk question hindi me

What is a Program in C language Hindi me By PCGYAN1

Image
Hey Friends आपका स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज हमने आपके लिए लिखा है C Language में Program किसे कहा जाता है और यह program क्या है इस पर एक सारगर्भित लेख तो चलिए आते है क्या होता प्रोग्राम हिंदी में... What is A Program In C Language प्रोग्राम एक प्रकार के ऐसे Function हैं या Functions के समूह होते हैं जिसको कम्प्यूटर पर चलाया जाता है . यह अनेक प्रकार का होता है यहां पर मैने सी लैंग्वेज के बारे में ही बताया है।  किसी भी प्रोग्राम को बनाना इतना आसान नहीं होता है जब हम किसी प्रोग्राम को बनाते हैं तो इसके लिए हमें बहुत से कम्पोनेंन्ट्स की जरूरत होती है जिसके बिना हम प्रोग्राम नहीं बना सकते हैं. How To Make A Program In C Language देखिए आपको अगर किसी भी भाषा में प्रोग्राम बनाना है तो सबसे पहले आपको उसके की वर्ड्स के बारे में जानना जरूरी होता है क्योकि बिना किसी अक्षर के कोईई शब्द नहीं बनता उसी प्रकार बिना किसी की वर्ड्स के कोई प्रोग्राम नहीं बन सकता है. प्रोग्राम में की वर्ड्स का प्रयोग किस प्रकार से करना है और फिर उसमें किस प्रकार के और कंट्रोल का प्रयोग करना है यह आपके ऊपर निर्भर क

Types of header file in c language by pcgyan1

Image
Hello welcome friends आज हम इस पोस्ट में बात करने वाले हैं c language में use किए जाने वाले header file के बारे में। C program में उपयोग किए जाने वाले header file के नाम और इन्हें प्रोग्राम में क्यों शामिल किया जाता है उसके बारे में यहां पर बताया गया है। C language में Header file में use किये जाने वाले विभिन्न Library Function की परिभाषाएं होती हैं। जब हम इन फंक्शन को अपने फाइल में उपयोग करते हैं तब इससे संबंधित है डर फाइल को प्रोग्राम के टॉप में इंक्लूड या शामिल करने की आवश्यकता होती है। इससे प्रोग्राम बिना किसी त्रुटि के या error के कंपाइल तथा रन होती है। किसी भी header file का extension name dot h होता है तथा इन्हें प्रोग्राम में एक micro definition has include के साथ include किया जाता है यह निम्न प्रकार के हैं- Types of header file (1.) studio.h - इस Header File में Standard Input/Output Functions के Definitions होते हैं। इसे printf(), scanf(), fprint(), fscan() आदि के लिए Include किया जाता है। (2.) conio.h इस Header File में Console Input/Output Functions के Definitio